बाला लखदर के हत्यारे की गिरफ्तारी पर एडीजी किया यह घोषणा

बाला लखदर के हत्यारे की गिरफ्तारी पर एडीजी किया यह घोषणा

जौनपुर। सपा सभासद व प्लाटर बाला लखदर हत्या कांड का खुलासा आज जीआरपी पुलिस ने कर दिया है। पुलिस ने चार हत्यारोपियों को गिरफ्तार किया है उनके पास से हत्या में प्रयोग की गई दो पिस्टल, 4 जिंदा कारतूस बरामद हुआ है।
मालूम हो कि बीते 1 फरवरी की रात करीब साढ़े आठ बजे अज्ञात बदमाशों ने सिटी स्टेशन के प्लेट फॉर्म नम्बर एक पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर सैदनपुर गांव के निवासी व भू माफिया बाला लखन्दर यादव को मौत के घाट उतार दिया था। परिवार वालों की तहरीर पर पुलिस ने मड़ियाहूं के ब्लाक प्रमुख समेत 3 लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू की थी।

पुलिस की जांच में बाला को मौत की नींद सुलाने वाला सैदनपुर गांव के निवासी ओमचंद्र गुप्ता उर्फ पवन, उमेश गौड़, मडि़याहूं थाना क्षेत्र के रामपुरनदी गांव के निवासी रितेश सिंह और महाराष्ट्र के शोला पुर के जयदीप प्रकाश गायकवाड़ का नाम प्रकाश में आया।

एसपी जीआरपी डा. वृजेश सिंह ने बताया कि ग्राम पंचायत चुनाव के बाद आरोपी पवन गुप्ता के भाई को मुंबई से बुलाकर उसकी निर्मम हत्या कर दिया गया था। इसी प्रतिशोध में पवन ने मुंबई में रह रहे अपने साथियों के साथ जौनपुर आकर बाला यादव की गोली मार कर हत्या की। जीआरपी एडीजी ने पुलिस टीम को पचास हजार रूपये का इनाम देने की घोषणा की।