शाहगंज(जौनपुर)।कोरोनाकाल मे अब हालात ऐसे बन चुके है की लोग जो दूसरे प्रदेशों में फंसे हुए है या वहां रहकर मेहनत मजदूरी अपना गुज़र बसर कर रहे थे और इस महामारी में जब सब काम धाम ठप्प हो गया।तो ऐसे मजदूरों के लिए वतन वापसी ही एक मात्र रास्ता रह गया और जिसको साधन मिला वो साधन, जिसको साधन नही मिला वो पैदल ही वतन वापसी के लिए निकल पड़ा।ऐसे मजदूरों को रास्ते मे न जाने कितनी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।ऐसे ही लोगों के लिए नगर के अंजुमन कमेटी के लोग 12 घण्टे सुबह से लेकर शाम तक जौनपुर आयोध्या मार्ग पर मजदूरों के सेवा के लिए निरन्तर पांच दिनों से लगे हुए है ऐसे मजदूरों को जो उस मार्ग से गुजरते है चाहे वो पैदल हो या फिर वाहन से सबको रुकवाकर कमेटी के लोग पहले जलपान करवा रहे हैं फिर भोजन करवा रहे हैं और जो दूर के यात्री है उनको रास्ते के लिए भी भोजन उपलब्ध करा रहे हैं।ऐसे मुश्किल हालात में इन यात्रियों के लिए जो सैकड़ों हजारों किलोमीटर पैदल, साईकल या अन्य किसी साधन से भूखे प्यासे पहुँच रहे हैं वो कमेटी के लोगों को दुआएं देते हुए जा रहे हैं।भोजन और जलपान कराने में कमेटी के महबूब आलम, हाफिज असद, नेहाल अल्वी,अल्ताफ रईस, सरफराज, सुहैल अहमद मकसूद अहमद आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।