जौनपुर। जिले के महराजगंज थाना क्षेत्र के तेजी बाजार स्थित हंसराजी पाली क्लीनिक में बीते 16 तारीख को प्रसव के बाद प्रसूता की हुई मौत को स्वास्थ्य विभाग ने गम्भीरता से ले लिया। इसी को लेकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी के आदेश पर शनिवार को अस्पताल सीज कर दिया गया।ज्ञात हो कि बक्शा थाना क्षेत्र के भुतहा निवासी प्रसूता प्रीति के पति सुनील विश्वकर्मा ने आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज करवाया कि उक्त क्लीनिक की संचालिका डा. नीलम सिंह ने लापरवाही तरीके तथा उपयुक्त संसाधन उपलब्ध न होने के बावजूद प्रीति की डिलवरी किया जिसके बाद उसकी मौत हो गयी। इसी सिलसिले में क्लीनिक को सीज करने एवं डा. नीलम सिंह की डिग्री को चेक करने के लिये पीड़ित सुनील विश्वकर्मा ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी से लिखित शिकायत किया।इस पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा जार आदेश के अनुपालन में डा. एसके पटेल अधीक्षक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बक्शा/नौपेड़वा, डा. श्रीनिवास अधीक्षक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तेजी बाजार, डा. दिनेश, डा. जनार्दन, बीसीपीएम नितेश यादव ने मौके पर पहुंचकर उक्त क्लीनिक को सीज कर दिया।इस बाबत पूछे जाने पर डा. पटेल ने बताया कि डा. नीलम सिंह की डिग्री को चेक किया जायेगा। अगर उनके पास डिग्री नहीं है तो मिली शिकायत के आधार पर उचित कार्यवाही की जायेगी। फिलहाल डा. नीलम सिंह मौके से फरार चल रही है।


हमारे यूट्यूब चैनल #JaunpurHub को सब्सक्राइब करें और हमें अपना आर्शीवाद प्रदान करें।


हमारे फेसबुक पेज @jaunpurhub97 को लाइक करे और हमें अपना आर्शीवाद प्रदान करें।