खेतासराय/जौनपर। भूत प्रेतों का साया आपके परिजनों के ऊपर है। इसलिए घर में हमेशा कलह व्याप्त रहता है। हम लोग चौकिया माई है। भूत प्रेतों व बुरी आत्माओं को ठीक कर देंगे। किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं होगी। ऐसा कहना स्थानीय कस्बा के एक वार्ड में आयी तीन ठगी महिलाओं ने एक परिवार की महिलाओं को विश्वास में लेकर 70 हज़ार रुपये के जेवर का चूना लगा दिया। घटना की जानकारी अन्य परिजनों को एक दिन बाद जब पता चला तो पैर की नीचे जमीन खिसक गई और हाथ मलकर रह गए। यह ठगी महिलाओं ने यह अंजाम तब दिया जब घर मे कोई पुरुष नहीं था। अब पक्षताएँ होत क्या जब चिड़िया चुक गई खेत वाली कहावत चरितार्थ हो गई।

जानकारी के अनुसार कस्बा स्थित भारती विद्यापीठ वार्ड निवासी मिठाईलाल सोनकर के घर सोमवार की शाम तीन ठगी महिलाएं आयी। जो पत्नी विमला देवी और बहू संगीता के ऊपर बुरी आत्मा का साया बताकर अपने बुने हुए जाल में फंसा लिया। भूत प्रेतों को ठीक कराने के लिए ठगी महिलाओं ने पैसों की मांग किया। पैसा न होने पर ठगी महिलाओं ने क्या किया की उक्त सांस बहु ने धड़ाधड़ जेवर निकल कर दे दी। यह सब तब हुआ जब घर में कोई पुरुष नहीं था। ठगी महिलाओं ने अपने बहकावे में लगभग 70 हजार रुपये का जेवर लेकर फरार हो गयी।

बताया जाता है की इस दौरान सास व बहू ठगी महिलाओं ने क्या कर दिया की मिठाई लाल की पत्नी विमला ने अपना सोने का टब और उसकी बहू संगीता ने मंगलसूत्र व झाला शरीर से उतारकर ठगी महिलाओं को दे दिया। जिसकी कीमत बाजार में लगभग 70 हज़ार बताई का रही है। जेवर हाथ में आते ही तीनों ठगी महिलाएं लेकर वहां से फरार हो गयी। कुछ देर बाद दोनों को याद आया तो ठगी महिलाओं को खोजने लगी। लेकिन तब तक वे फरार हो चुकी थी। पुरुषों की डर से सास बहू ने घर में किसी को नहीं बताया। मंगलवार घर के सदस्यों को बताया तो घटना की जानकारी हुई। फिलहाल पुलिस को घटना की सूचना नहीं दी गयी है।