जौनपुर -बरसठी थाना क्षेत्र के सरायविक्रम (सुखलालगंज) गांव में विवाहिता की गला रेत कर हत्या कर देने का मामला प्रकाश में आया है। सूचना पर पहुचीं बरसठी पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बतादे, गांव निवासी ललिता पांडेय 32 वर्षीय पत्नी आशुतोष पाण्डेय की गुरुवार रात घर मे ही संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। घटना की सूचना लगते ही पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। 

गंभीर हालत देखते हुए डॉक्टरों ने किया था रेफर रास्ते में हुई मौत

परिजन ललिता को लेकर नज़दीक के ही एक निजी अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने गंभीर हालत को देखते हुए अन्यत्र जगह ले जाने की सलाह दिए, लेकिन रास्ते मे ही उसकी मौत हो गई। ललिता पुत्री प्रेमचंद निवासी मलाई थाना बरसठी की शादी 2007 में सराय विक्रम थाना बरसठी निवासी आशुतोष पांडेय पुत्र शीतला प्रसाद पांडेय से हुई थी। घटना की सूचना परिवारीजनों ने मायके वालो के साथ ही बरसठी पुलिस को दी।  

मायके के लोगो ने परिवारजनों पर लगया आरोप

घटना स्थल पर पहुच मायके के लोगो ने परिवारजनों पर आरोप लगाते हुए बताया कि, ललिता का पति आशुतोष शादी के बाद से ही लागातार नशा करता था, परिवारिक जिम्मेदारी को भी नही संभाल पा रहा था, जिसे लेकर ललिता और आशुतोष से आए दिन मारपीट, गाली-गलौज होता रहता था।  मौके पर पहुची बरसठी पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज भेज दिया। मृतका ललिता पांडेय का भतीजा हरिओम पांडेय ने बरसठी पुलिस को तहरीर देकर ससुरालजनों पर गला रेतकर हत्या का आरोप लगाते हुए ससुर, सास, देवर, पति के खिलाफ़ बरसठी पुलिस को लिखित रुप से तहरीर दिया है।
पुलिस ने की कार्यवाही
तहरीर के आधार पर बरसठी पुलिस ने ससुर शीतला प्रसाद पांडेय, सास गायत्री देवी, पति आशुतोष व देवर ऋषिकेश के खिलाफ़ धारा 302 के तहत मुक़दमा पंजीकृत कर ससुर, सास व पति को गिरफ्तार कर आवश्यक कार्यवाही में जुट गई है।

इनपुट-चेतन सिंह