मां शीतला चौकियां धाम में आरती-पूजन के बाद कपाट बन्द

 जौनपुरबासंतिक नवरात्र के पावन पर्व पर प्रथम दिन रोज की भांति बुधवार को सुबह 5 बजे पूर्वांचल की आस्था के केन्द्र मां शीतला चौकियां धाम में श्रृंगारोपरांत आरती हुई जिसके बाद परम्परागत ढंग से पूजन-अर्चन किया गया। आरती-पूजन होने के बाद मन्दिर के कपाट बंद कर दिये गये। हालांकि हमेशा से ही साल के दोनों नवरात्रि में इस दरबार में लाखों लोगों द्वारा मत्था टेका जाता है।

आस्था का केंद्र है पूर्वान्चल मां शीतला चौकियां धाम

आस्था के इस मन्दिर में उपरोक्त अवसर के अलावा समय-समय पर लाखों भक्तों की भीड़ एकत्रित होती है जो एक भव्य मेले का रूप रहता है लेकिन इस समय देश के अलावा पूरे विश्व में महामारी के रूप में पनपे नोवल कोरोना वायरस के चलते मन्दिर के कपाट बन्द कर दिये हैं तथा भक्तों से मन्दिर न आने की अपील की गयी है।

महामारी को देखते हुये इतिहास में पहली बार नवरात्रि के दिन कोई भी भक्त नहीं दिखायी दिया।देखा गया कि पूरे मन्दिर परिसर में पुजारी समेत 2 सहयोगी रहे जो मन्दिर परिसर की साफ-सफाई करने के उपरांत माता रानी का आरती-पूजन किये। इस मौके पर मन्दिर के पुजारी शिव कुमार पंडा व प्रबन्धक अजय पण्डा ने बताया कि जब तक यह कोरोना महामारी हमारे देश में पूर्ण रूप से समाप्त नहीं हो जाती तब तक मन्दिर परिसर को बंद रखा जायेगा।

मां शीतला चौकियां धाम के कपाट बन्द होने से श्रद्धालु रहे मायूस 

दर्शन-पूजन के लिये दर्शनार्थियों के आगमन को अनिश्चितकाल के लिये रोक दिया गया है। भक्त अपने घर पर ही कलश रखकर मां शीतला माता जी की पूजन-अर्चन करते हुये स्तुति करें।स्थानीय संवाददाता के अनुसार नवरात्र के पहले दिन बुधवार को मां शीतला चौकियां धाम के कपाट बन्द होने से मन्दिर परिसर के अलावा बगल-बगल सन्नाटा पसरा रहा। कोरोना वायरस की वजह से मंदिर को पूरी तरह से बन्द रखा गया है जिसके चलते श्रद्धालु मायूस रहे। फिलहाल अपनी जान एवं देश हित के लिये मन्दिर की तरफ कोई भी दिखायी नहीं दिया।




हमारे यूट्यूब चैनल #JaunpurHub को सब्सक्राइब करें और हमें अपना आर्शीवाद प्रदान करें 

https://www.youtube.com/channel/UCI4Z75ptD60ueu6je3XA9IA/featured 

हमारे फेसबुक पेज @jaunpurhub97 को लाइक करे और हमें अपना आर्शीवाद प्रदान करें

https://www.facebook.com/jaunpurhub97/