रेल लाइन की पटरी टूटने से रेल प्रशासन में मचा हड़कम्प

रेल लाइन की पटरी टूटने से रेल प्रशासन में मचा हड़कम्प

इम्तियाज अहमद सिद्दीकी
मानी कलां, जौनपुर। उत्तर रेलवे लखनऊ वाया वाराणसी-फैजाबाद रेलवे ट्रैक पर स्तिथ शेख मंसूर अली गांव के पास सुबह रेल लाइन पटरी टूटने से रेल प्रशासन में हड़कम्प मच गया। खेत देखने गए एक किसान ने घटना की जानकारी दी, जिस से महकमे के हाथ पॉव फूल उठे। महत्वपूर्ण यात्री ट्रेनों का समय होने के चलते घण्टो पीडब्ल्यूआई के इंजीनियर को घण्टो इंतजार करना पड़ा। सभी आधा दर्जन से अधिक गाड़ियों को कासन के सहारे गुजारी गयी।

बताया जाता है कि गेट न. 58 शेखूपुर के समीप मंसूर अली गांव सिथ ट्रैक न. 849/5 व 6 की ट्रैक की लाइन टूटी मिली। गाँव के एक किसान के माध्यम से गेट मैन राजीव कुमार को जानकारी मिली तो विभाग में हडकम्प मच गया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पटरी करीब 2 इंची टूटी मिली।खेतासराय सेशन मास्टर ने घटना की जानकारी पीडब्ल्यूआई को दी,लेकिन महत्वपूर्ण ट्रेनों के समय के चलते रेल पथ विभाग को घण्टो मरम्मत के लिए इंतजार करना पड़ा।
इस बाबत स्टेशन मास्टर हरि मोहन मीना ने पूछे जाने पर बताया कि सात महत्वपूर्ण गाड़ियों को कासन के सहारे गुजारा गया है। पटरी के मरम्मत के जानकारी के बाबत स्टेशन मास्टर मीडिया को जानकरी देने से बचते नजर आए।खबर लिखे जाने तक रेल की पटरी को जोड़ा जा नही सका। पीडब्ल्यूआई को ट्रेनों को गुजारने के चलते काफी समय तक बांट जोहते रहे।