वृद्ध असहाय दिव्यांग की सहायता के लिये आगे आये समाजसेवी राजेश

वृद्ध असहाय दिव्यांग की सहायता के लिये आगे आये समाजसेवी राजेश

जौनपुर। नगर क्षेत्र के शीतला चौकियां धाम में बडागर चौराहे के पास एक दिव्यांग बुजुर्ग काफी दिनों से सड़क किनारे पड़ा था। वह कई दिनों से नहाया धोया भी नहीं था उसके शरीर व कपड़ों से दुर्गंध आ रही थी जिससे आने जाने वाले लोग भी दूरी बना लिये थे और न ही उसके पास कोई जाता था। जैसे ही इस बात की जानकारी पूर्वांचल विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर समाजसेवी राजेश कुमार को मिली।

उनसे रहा नहीं गया वह तुरंत उस वृद्ध की सहायता के लिये तैयार हो गये। उन्होंने बताया कि सबसे पहले वृद्ध का दाढ़ी बनाकर अच्छी तरह से नहला धुलाकर साफ नये वस्त्र पहनाया। भोजन पानी कराने के पश्चात वृद्धाश्रम में छोड़ने की बात उस वृद्ध से बोले। राजेश ने बताया कि वृद्ध असहाय विकलांग बुजुर्ग का कहना है बच्चों द्वारा घर से बाहर निकाला गया है। वह पता भी नहीं बता पा रहे थे। इस बात की जानकारी देते हुए वृद्ध की आंखों में आंसू आ गये। समाजसेवी ने उन्हें वृद्धाश्रम छोड़ने के लिये कहे तो वे जाने के लिये तैयार हो गये। उन्हें वृद्धाश्रम ले जाने की तैयारी समाजसेवी राजेश कर रहे हैं। बता दें कि पूर्वांचल विश्वविद्यालय में तैनात सहायक प्रोफेसर राजेश हमेशा दीन दुखियों की सेवा, पीड़ित की मदद के लिये समाज में आगे रहते हैं। वह वृद्ध असहाय लोगों की मदद भी करते हैं।